Bhartiya Samachar
अन्य गुन्हा धार्मिक राजकीय राष्ट्रीय संपादकीय

मांगों को लेकर CMO पहुंचे बेरोजगार: मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप राका ने बेरोजगारों से की मुलाकात, आज फिर बेरोजगारों की कई मांगों पर बनी सहमति

Hindi NewsLocalRajasthanJaipurKuldeep Raka, Principal Secretary To The Chief Minister, Met The Unemployed, Today Again Agreed On Many Demands Of The Unemployed

जयपुर2 घंटे पहले

कॉपी लिंकCMO में अधिकारियो से बातचीत करते बेरोगारों के प्रतिनिधि। - Dainik Bhaskar

CMO में अधिकारियो से बातचीत करते बेरोगारों के प्रतिनिधि।

राजस्थान में रीट, सब इंस्पेक्टर और JEN भर्ती परीक्षा में हुई धांधली की CBI से जांच समेत 21 सूत्री मांगों को लेकर बेरोजगारों का अनशन 8वें दिन भी जारी है। गुरुवार को बेरोजगार एकीकृत महासंघ के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप राका और स्पेशल सेक्रेट्री आरती डोगरा के साथ बैठक कर 21 सूत्री मांग पत्र लागू करने की बात रखी। जिस पर अधिकारियों ने जल्द ही लंबित भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के साथ ही नकल पर कानून में संशोधन की स्वीकृति दी।

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने बताया कि आज पहले दौर की वार्ता के बाद सरकार के प्रतिनिधियों ने काफी मांगों पर मौखिक सहमति दे दी है। हालांकि अब भी बेरोजगारों की कई मांगे लंबित है। जिन पर दूसरे दौर की वार्ता होगी। जिसके बाद ही बेरोजगारों द्वारा जयपुर के शहीद स्मारक पर दिए जा रहे धरने को समाप्त करने का फैसला लिया जाएगा। उपेन ने कहा कि फिलहाल सरकार ने 21 सूत्री मांग पत्र में से 6 मांगों को पूरा कर लिया है। जबकि आज कुछ मांगों पर मौखिक सहमति दे दी है। ऐसे में जब तक हमारी पूरी मांगों पर परिणाम सामने नहीं आते तब तक धरना जारी रहेगा।

उपेन ने बताया की रीट शिक्षक भर्ती 2018, प्रयोगशाला सहायक भर्ती, शिक्षक भर्ती 2012, फार्मासिस्ट, स्कूल व्याख्याता भर्ती 2018, 14% पंचायत राज एलडीसी और नए कानून में संशोधन सहित कई मांगों पर वार्ता हुई है। अब मुख्यमंत्री प्रमुख सचिव कुलदीप राका चिकित्सा विभाग की भर्तियों को लेकर अखिल अरोड़ा के साथ मीटिंग करेंगे। वहीं बेरोजगारों की लंबित मांगो को लेकर आज 4 बजे हमारे प्रतिनिधिमंडल की पंचायतीराज प्रमुख शासन सचिव अर्पणा अरोड़ा के साथ वार्ता होगी। जबकि रीट शिक्षक भर्ती 2018 की सुनवाई के संबंध में एडवोकेट जनरल जल्द केस मेंशन करवाकर, फिजिकली पैरवी करेंगे। इसके साथ ही सरकार ने नकलचियों के खिलाफ जो गैरजमानती कानून के लिए अध्यादेश लाने की घोषणा की थी। अब उसमें संशोधन कर फर्जी डिग्री डिप्लोमा और दिव्यांग सर्टिफिकेट को भी शामिल किया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

Related posts

राजस्थान का सबसे बड़ा प्रधान चुनाव यहां: पिछली बार के चुनाव में करीब साढ़े 5 करोड़ रुपए खर्च हुए थे, इस बार भी बड़े नेता चुनाव लड़ रहे

cradmin

6 बच्चों के पिता ने किया सुसाइड: काम से लौटने के बाद कमरे में जाकर फंदे से झूला, पुलिस को नहीं मिला कोई सुसाइड नोट

cradmin

KBC के नाम पर ठगी: 25 लाख की लॉटरी का लालच देकर पूछा OTP; खाते से 50 हजार निकले तो चला पता, कराई FIR

cradmin

Leave a Comment